Sponsor

recent posts

जानिए अंगूर खाने के अनोखे और असरदार फायदे

अंगूर में उपस्थित पोषक तत्व 

जानिए अंगूर खाने के अनोखे और असरदार फायदे

ग्लूकोज 

ग्लूकोज सबसे सरल कार्बोहइड्रेट होता है यह जल में घुलनशील होता है और इसका कार्य कोशिकाओं को ऊर्जा प्रदान करना होता है। 

मैग्नीशियम 

अंगूर में मैग्नीशियम की मात्रा होती है मैग्नीशियम का एक बाग़ ह्यूमन की  कोशिकाओं में पाया जाता है शरीर में मैग्नीशियम की मात्रा 40 ग्राम से काम होती है और मैग्नीशियम शरीर में कैल्शियम और विटामिन C के संचार में स्नायु और मांसपेशियों की कार्यकुशलता साथ ही एंजाइम को एक्टीव बनाने के लिए जरूरी होता है। 

सिट्रिक एसिड 

अंगूर में सिट्रिक एसिड पाया जाता है सिट्रिक एसिड पानी में घुलनशील एसिड होता है यह हमारे शरीर में प्रिजर्वेटिव की तरह काम करता है और यह खट्टे फलो और अंगूर में पाया जाता है। 

कैलोरी 

अंगूर में कैलोरी की अछि मात्रा होती है मानव शरीर में कैलोरी ऊर्जा की एक यूनिट होती है जो आपको भोजन के द्वारा प्राप्त होती है यह आपको दिन भर एनर्जेटिक बनाए रखने में मदद करती है और अगर ज्यादा कैलोरी लेते है तो इस से आपका वजन भी बाद जाता है। 

फाइबर 

अंगूर में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है फाइबर एक तरह के कार्बोहइड्रेट होते है फाइबर बिना पचे ही आपके शरीर से आँतों के जरिए बहार निकल जाते है और फाइबर शरीर के लिए जरूरी होते है क्योंकि यह आपकी नियमित पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में मदद करते है। 

विटामिन C 

अंगूर में विटामिन C की भरपूर मात्रा पाई है यह मानव शरीर के लिए बहुत आवश्यक पोषकतत्व होता है यह पोषक तत्व तंत्रिकाओं को शंदेस पहुँचाने,कॉलेजन का निर्माण करने,रक्त वाहिकाओं को मजबूत करने और अन्य पोषक पदार्थों के अवशोषण में मदद करता है। 

अंगूर का सेवन करने का सही समय 

अंगूर में पानी की मात्रा यह आपके शरीर में संतुलन बनाए रखने में मदद करता है इसलिए अंगूर का सेवन खाली पेट करना चाहिए अंगूर या फिर अंगूर के जूस आपके शरीर में पानी की मात्रा को बनाए रखता है आपको इसका सेवन सुबह के समय करना बहुत ही फायदेमंद होता है। 

अंगूर खाने का सही तरीका 

अंगूर का सेवन या तो आप डायरेक्ट ही इसका सेवन कर सकते है या फिर आप इसका जूस बनाकर भी इसका सेवन कर सकते है अंगूर को खाने के तुरंत बाद आपको एनर्जेटिक फील होता है क्योंकि यह विटामिन से भरपूर होता है और जब आप इसका सेवन सुबह के समय करते है तो आप पूरे दिन एनर्जी से भरा हुआ फील करते है इसके अलावा जब आप धुप में जाते है और धुप से आते है तो लगभग आधे घंटे के बाद आपको अंगूर का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद साबित होता है यह आपके शरीर को तुरंत एनर्जी देना का काम करता है यदि खट्टे अंगूर है तो आपको खाली पेट नहीं खाना चाहिए और अगर अंगूर मीठे है तो आप इसे खाली पेट खा सकते है और आपको खाना खाने के एक घंटे पहले या एक घंटे के अंतराल में अंगूर नहीं खाना चाहिए। 

दिन भर में कितने अंगूर खाने चाहिए 

यदि आप स्वस्थ है तो आपको दिन भर में 100 से 150 ग्राम अंगूर का सेवन करना बहुत ही लाभदायक होता है यह आपके लिए पर्याप्त होता है। 

अंगूर का सेवन करने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए 

  • अंगूर के जूस के साथ किसी भी तरह की दवाइयों का सेवन नहीं करना चाहिए कुछ लोग अंगूर के जूस के साथ दवाइयों का सेवन कर लेते है तो आप अंगूर के जूस के साथ कभी भी किसी भी तरह की दवाइयों का सेवन नहीं ले। 

  • आप दवाइयां खाने के कुछ देर पहले या कुछ देर बाद तक अंगूर का सेवन बिलकुल भी ना करे। 

  • अंगूर खाने के बाद अण्डे का सेवन नहीं करना चाहिए अगर आप अंगूर और अण्डे का एकसाथ सेवन करते है तो इस से आपको अपच की समश्या भी हो सकती है। 

  • दूध का सेवन कभी भी अंगूर खाने के बाद या अंगूर के जूस पीने के बाद नहीं करना चाहिए इस से आपके शरीर में एसिड बनता है जिस से आपको खट्टी डकारे और एसिडिटी की प्रॉब्लम हो सकती है। 

  • अंगूर का सेवन करने के बाद कभी भी पानी का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इस से आपको शर्दी जुकाम की प्रॉब्लम हो सकती है। 

अंगूर खाने के फायदे 

जानिए अंगूर खाने के अनोखे और असरदार फायदे

  • अंगूर कैंसर के इलाज में बहुत ही मददगार साबित होता है अंगूर कैंसर के दो मुख्य घटक को रोकता है और सूजन को कम करके कैंसर के कम करता है और कैंसर की कोशिकाओं को दबाने में मदद करता है। 
  • अंगूर आपकी स्मरण शक्ति को बढ़ाने में मदद करता है एक रिसर्च से यह बात साबित हो गई है की अंगूर आपकी याददास्त को बढ़ाने में मदद करता है। 
  • अंगूर मस्तिष्क की पट्टी और फ्रीरेडिकल्स क्षति से भी बचाव करता है जो की अल्ज़ाइमर रोग का कारन होता है तो अगर अल्जाइमर की प्रॉब्लम होती है तो उनके लिए भी अंगूर का सेवन करना लाभदायक होता है। 
  • यदि किसी व्यक्ति कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम होती है तो उनके लिए भी अंगूर का सेवन करना फायदेमंद होता है अंगूर में उपस्थित फ़्लेमोनाइड और एंटीऑक्सीडेंट को कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बेहतर बनाने में मदद करते है अंगूर काम घनत्व वाले लिपो प्रोटीन LDL होता है खराब कोलेस्ट्रॉल होता है उसके स्तर को काम करता है।  

  • अंगूर ह्रदय के लये भी बहुत लाभकारी होता अंगूर का नियमित रूप से  सेवन करने से हृदय सम्बंधिद इलाज में सहायता करता है क्योंकि यह आपके हृदय सम्बंधित रोगो से बचाने में आपकी मदद करेगा। 
  • अंगूर का रस आपकी थकान दूर करने में काफी फायदेमंद होता है अंगूर वॉटमीन,मैग्नीशियम,फास्फोरस जैसे पोषक तत्वों से भरपूर है और यह आपकी थकावट दूर करने में मदद करता है। 
  • अंगूर आँखों के लिए फायदेमंद होता है अगर आप नियमित रूप से अंगूर का सेवन करते है तो इस से आपकी आँखों से सम्बंधित  समस्याए दूर होती है। 
  • अंगूर इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में भी काफी लाभदायक होते है यदि आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर कमजोर है तो आप अंगूर का सेवन करिये तो ये आपकी रोग प्रतिरोधक समता बढ़ाने में काफी मदद करेगा। 

अंगूर खाने के नुक्सान 

  • आदि आप अंगूर का बहुत ही ज्यादा मात्रा में सेवन करते है तो इस से आपको गैस की प्रॉब्लम हो सकती है। 
  • अंगूर में कैलोरी अच्छी मात्रा में होता है यदि आप अधिक मात्रा में अंगूर कहते है तो इस से आपका वजन बाद सकता है और साथ ही अपच की समस्या भी हो सकती है। 
  • अंगूर में फाइबर पर्याप्त मात्रा में होता है तो यदि आप इसका अधिक सेवन करते है तो इस से आपको उपकाइ की समस्या हो सकती है और उलटी की समस्या भी हो सकती है। 
  • जिन लोग सोरायसिस की समस्या होती है उन्हें भी अंगूर का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि अंगूर को खाने से इफेक्शन बढ़ सकता है। 
  • यदि अपने एलकोहॉल का सेवन किया है तो आपके लिए अंगूर का सेवन करना हानिकारक साबित हो सकता है इस से आपके शरीर में एसिड की मात्रा बढ़ जाती है जिस से आपको जलन की समश्या हो सकती है। 
  • यदि आप रात के समय अंगूर खा लेते है तो आपको एसिडिटी या गैस की प्रॉब्लम भी हो सकती है तो आप हमेशा कोसिस करे की अंगूर को खाने से पहले या सुबह के समय ही खा ले।  
अस्वीकरण: हम केवल शिक्षा के उद्देश्य से अपने दर्शकों को बीमारी, उपचार और दवाओं के बारे में सामान्य जानकारी प्रदान करने का एक साधन हैं। प्रदान की गई जानकारी का उपयोग आपके चिकित्सक के मार्गदर्शन के बिना किसी भी बीमारी या चिकित्सा स्थिति के निदान और/या उपचार के लिए नहीं किया जाना चाहिए। कोई भी उपचार या दवा शुरू करने से पहले हमेशा डॉक्टर से सलाह लें।


कोई टिप्पणी नहीं:

top navigation

Blogger द्वारा संचालित.