Sponsor

recent posts

Papita khane ke fayde aur nuksan in hindi

पपीता खाने के बहुत से फायदे 
Papita khane ke fayde aur nuksan in hindi

दोस्तों पपीता खाने में स्वादिष्ट तो होता ही है पर इस के साथ साथ यह गुणों का भण्डार है और साथ ही यह सुप्परफूड की श्रेणी में आता है और पपीते को पापाया के नाम से भी जाना जाता है यह एक ऐसा फल है जो लगभग हमें साल भर देखने को मिलता है और पपीता चाहे कच्चा हो या पका हुआ हो दोनों ही औसधि गुणों से भरपूर है इसके अलावा पपीते में पेपेन नमक एन्ज़ाइम पाया जाता है जो हमारे शरीर में आहार को पचाने में बहुत ही मददगार होता है पपीते की तासीर गरम होती है इसलिए सर्दियों के मौसम में इसका सेवन करने से हमें और भी ज्यादा लाभ होता है दोस्तों पापाया विटामिन A विटामिन C और विटामिन E का बहुत ही अच्छा स्रोत है इसके अलावा इसमें आयरन,केल्सियम कॉपर मैग्नीशियम पोटेसियम और फाइबर की भरपूर मात्रा होती है इसके साथ-साथ इसमें प्रोटीन कार्बोहइड्रेट और कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स भी मौजूद होते है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही जरूरी होते है लेकिन इन सभी पोषक तत्वों का फायदा तभी मिलता है जब हमें इसके सेवन करने का सही समय और सही तरीका अच्छे से मालूम हो। 

पपीता खाने का सही समय 

दोस्तों वैसे तो आप पपीते का सेवन सुबह दोपहर शाम के समय कभी भी कर सकते है पर अगर आप पपीता सुबह के समय खाली पेट खाते है तो इस से आपको अद्भुद लाभ होंगे और अगर आप वैट लोस की डाइट फॉलो कर रहे है तो आपको इसका सेवन सुबह के ब्रेकफास्ट में करना चाहिए क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा भरपूर होती है इसलिए सुबह के वक्त इसका सेवन करने से जल्दी भूक नहीं लगती और शरीर में दिन भर एनर्जी बनी रहती है और अगर आप एथलीट है और जिम करते है तो आपको इसका सेवन एक्सेर्साइज़ के एक घंटे बाद करना चाहिए इस से आपको इंस्टेंट एनर्जी मिलेगी इसके अलावा आप पपीते का सेवन सुबह के नास्ते के दो घंटे बाद और दोपहर के लंच के दो घंटे पहले भी कर सकते है दोस्तों अगर आप चाहे तो इसका सेवन शाम के समय भी कर सकते है अगर शाम को आनहेल्दी स्नेक्स के बजाय पपीता खाए तो ये आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद साबित होगा दोस्तों इस बात का जरूर ध्यान रखे आयुर्वेद के अनुसार किसी भी फल का सेवन सूर्य ढलने से पहले ही करना चाहिए यानी शाम के 6 बजे के बाद आप पपीता न खाए तो अच्छा है। 

पपीता खाने का सही तरीका 

दोस्तों वैसे तो पपीता खाने का सबसे अच्छा तरीका है पपीते का छिलका निकाल कर इसके टुकड़े करके डायरेक्ट खाए लेकिन अगर आपको इसको इस तरह से खाना पसंद ना हो तो आप चाहे तो पापाया का जूस या फिर इसकी स्मूथी भी ले सकते है यह भी आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है इसे खाने का और भी अच्छा तरीका है की आप पापाया को मल्टी फ्रूट्स के साथ मिलकर के खाए इस से इसका स्वाद और भी ज्यादा बढ़ जाएगा और यह हमारे स्वास्थ्य के लिए और भी ज्यादा लाभदायक होता है और दोस्तों अगर आपको मीठा खाना पसंद हो तो आप चाहे तो इसका हलवा बना कर भी खा सकते है इसके अलावा आप दोपहर के भोजन में कच्चे पपीते की अचार या फिर कच्चे पपीते की चटनी बनाकर भी खा सकते है इस से भी आपको लाभ होगा लेकिन एक बात का ध्यान दे पपीता अच्छी तरह पका हुआ ही खाना चाहिए क्योंकि कच्चा पपीता खाने से आपको ऐंठन की समस्या हो सकती है लेकिन आयुर्वेद के अनुसार कच्चा और पका पपीता दोनों ही गुणकारी है इसलिए आप कच्चे पपीते की सब्जी बनाकर खाए ये आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होगी दोस्तों कोई भी चीज हमारे लिए तभी फायदेमंद होती है जब हम इसका सेवन सही मात्रा में करते है। 

रोजाना कितना पपीता खाऐं 

दोस्तों हमें एक दिन में 200 से 250 ग्राम से ज्यादा पपीता नहीं खाना चाहिए इसके अलावा पपीते की तासीर गरम होती है इसलिए जरूरत से ज्यादा मात्रा में इसका सेवन नहीं करना चाहिए नहीं तो यह हमारे लिए फायदे के बजाय नुक्सान दायक भी हो सकता है। 

पपीता खाने के फायदे 

Papita khane ke fayde aur nuksan in hindi

पपीता हमारे ह्रदय को स्वस्त रखने में बेहद मददगार होता है इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन A विटामिन C और विटामिन E पाया जाता है जो हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल को बेलेन्स रखता है। 

इसके अलावा पपीता ह्रदय में टॉक्सिक पदार्थ इकठे होने से भी रोकता है इसलिए दिल की बिमारी होने के चांसेस बहुत कम हो जाते है। 

कही बार दवाई की एलर्जी के कारण किसी बिमारी के साइड इफ़ेक्ट की वजह से या शरीर में किसी विटामिन की कमी के कारण या फिर पेट साफ़ न होने की वजह से मुँह में छाले हो जाते है इस कंडिशन में पापाया का सेवन करे आपको इस से जल्द ही आराम  मिलेगा। 

जिन्हे कब्ज की समस्या हो उन्हें पपीता जरूर खाना चाहिए यह कब्ज की समस्या दूर करने का रामबाण इलाज है। 

जिन्हे भूक न लगती हो या फिर जिनकी पाचन क्रिया कमजोर हो उन्हें भी पपीता अपनी डाइट में जाऊर शामिल करनी चाहिए इस से पेट की सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाएगी। 

यदि आप मोटापे की वजह से परेशान रहते हो तो ये वैट लॉस के लिए बहुत ही अच्छा ऑप्शन है दोस्तों कच्चे पपीते में फाइबर विटामिन C और पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है इसके अलावा इसमें पेपेन एंजाइम होता है जो हमारे शरीर में तेजी से फेट को बर्न करता है इसलिए कच्चे पपीते को अपनी डाइट में एड करे इस से जल्दी फेट बर्न होता है और वेट लोस होता है। 

दोस्तों पापाया विटामिन C और विटामिन E का बहुत ही अच्छा स्त्रोत है और यह त्वचा को सेहतमंद रखने में बहुत ही लाभदायक होता है यह हमारी स्किन से पिम्पल्स दाग धब्बे दूर करता है साथ ही साथ स्किन को टाइट कर झुर्रियां हटाने में भी मददगार है इसलिए पपीता खाना त्वचा के लिए तो फायदेमंद होता ही है लेकिन अगर आप इसके साथ-साथ पपीते के पल्प को मेष कर फेस पर लगाए तो इस से त्वचा और भी ज्यादा चमकदार हो जाएगी। 

जिन महिलाओं और लड़कियों को पीरियड्स के दौरान बहुत ज्यादा पेट में दर्द की शिकायत रहती है या फिर पीरियड समय पर नहीं एते उनके लिए पपीता बहुत ही ज्यादा फायदेमद होता है। 

एक रिसर्च के अनुसार पपीता ही नहीं पपीते के बीज और पपीते के पत्ते कैंसर के सेल्स को  इसलिए कैंसर के इलाज में और बचाव में पपीते का सेवन करना फायदेमंद होता है पपीते का सेवन करने से कैंसर पेसेंट की इम्युनिटी बूस्ट होती है। 

पपीता हमारी आँखों के लिए भी फायदेमंद होता है क्योंकि पपीते में विटामिन A विटामिन C और विटामिन E भरपूर मात्रा में होता है जो आँखों की रौशनी बढ़ाने में मदद करता है इस से मोतियाबिंद की समस्या भी दूर होती है।  

अगर किसी को डेंगू हो जाता है तो उसकी प्लेटलेट्स अचानक कम हो जाते है तो अगर आप डेंगू के पेसेंट को पपीते का रस दे तो इस से प्लेटलेट्स तेजी से बढ़ने लगते है पपीते के पत्ते प्लेटलेट्स बढ़ाने में लिए रामबाण इलाज है। 

पपीता का सेवन कोन न करे    

प्रेग्नेंट लेडी को पपीता खाने से नुक्सान हो सकता है क्योंकि पपीते की तासीर गरम होती है इसलिए पपीता खाने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले। 

दोस्तों अगर आप खून पतला करने की दवाई ले रहे हो तो आपको पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। 

लूस मोसन होने पर पपीता नहीं खाना चाहिए इस से आपकी प्रॉब्लम और भी ज्यादा बढ़ सकती है। 

एक साल से छोटे बच्चे को पपीता न खिलाए तो अच्छा होता है। 

दोस्तों ये तो आप जानते ही है किसी भी चीज का सेवन अगर हम जरुरत से ज्यादा मात्रा में करते है तो वह हमारे शरीर के लिए फायदे की जगह नुक्सान पहुंचता है इसलिए अगर आप पपीते का जरूरत से ज्यादा मात्रा में सेवन करते है तो इस से सर दर्द चक्कर आना और खुजली जैसी समस्याए हो सकती है। 

दोस्तों वैसे तो आप पपीता को लगभग सभी चीजों के साथ खा सकते है लेकिन दही, नींबू और संतरा जैसी खट्टी चीजों के साथ इसे न खाए क्योंकि इस से आपको एसिडिटी की समस्या हो सकती है। 

दोस्तों में आशा करता हु पपीते के बारे में आपको यह जानकारी बहुत अछि लगी होगी और ये इनफार्मेशन आपके लिए हेल्पफुल रही होगी अगर आप और भी ऐसी जानकारी चाहते है तो अभी फॉलो करे धन्यवाद।   

अस्वीकरण: हम केवल शिक्षा के उद्देश्य से अपने दर्शकों को बीमारी, उपचार और दवाओं के बारे में सामान्य जानकारी प्रदान करने का एक साधन हैं। प्रदान की गई जानकारी का उपयोग आपके चिकित्सक के मार्गदर्शन के बिना किसी भी बीमारी या चिकित्सा स्थिति के निदान और/या उपचार के लिए नहीं किया जाना चाहिए। कोई भी उपचार या दवा शुरू करने से पहले हमेशा डॉक्टर से सलाह लें।


कोई टिप्पणी नहीं:

top navigation

Blogger द्वारा संचालित.